DOMOTEX – दो भारतीय कालीनों को मिला बेस्ट डिजाईन अवार्ड

भदोही और जयपुर के कालीन को मिला अवार्ड

डोमोटेक्स में भारतीय कालीनो का रहा दब दबा ,

डोमोटेक्स अवार्ड को माना जाता है कालीन उद्योग का आस्करमें 

21 देशों के 386 कालीन निर्माताओं ने नामांकन किया था।

जर्मनी के हैनोवर में आयोजित इंटरनेशनल डोमोटेक्स फेयर में भारतीय कालीनों का श्रेष्ठता देखने को मिला है। इस फेयर में होने वाले कारपेट डिजाईन काम्पटीशन में दो भारतीय कालीनों को बेस्ट डिजाइन अवार्ड मिला है। इसमें भदोही की कालीन कंपनी स्टर्लिंग रग्स को बेस्ट मार्डन डिजाईन सुपिरियर और जयपुर के जयपुर रग्स को बेस्ट माडर्न कलेक्शन का अवार्ड मिला है। डोमोटेक्स में कारपेट के आठ श्रेणियों में मिलने वाले अवार्ड के लिए हुए काम्पटीशन में 21 देशों के 386 कालीन निर्माताओं ने नामांकन किया था।

कालीन उद्योग में  डोमोटेक्स जहां दुनिया में कालीन के व्यापार के लिए जाना जाता है वहीं इस फेयर को आने वाले भविष्य के ट्रेंड सेटर के रूप में भी देखा जाता है। आने समय में कौन सी नयी डिजाईन और तकनीकी और कलर कॉम्बिनेशन, डिजाईन और पैटर्न की मांग बढ़ेगी यह अंतराष्ट्रीय मेला तय करता है।
 इस मेले में दुनिया भर के चुनिंदा डिजाईनरो द्वारा 8 श्रेणियों के लिए चुनिंदा कालीनों को अवार्ड दिया जाता है। इस वर्ष भी दुनिया भर से 8 श्रेणियों के लिए 24 कालीनों को नॉमिनेट किया गया जिसमें भारत के 6 कालीनों को अंतिम 24 में जगह मिली और फाइनल राउण्ड में दो भारतीय कालीनों को सर्वश्रेष्ठ डिजाईन का अवार्ड मिला। बेस्ट मार्डन डिजाईन सुपिरियर अवार्ड जीतने वाले भदोही के नई बाजार स्थित स्टर्लिंग रग्स के नुमान वजीरी ने फेयर में सुपरमूनके नाम से अपनी कालीन प्रदर्शित किया था जिसमें चन्द्रमा की डिजाइन बनायी गयी है इस पुरस्कार के लिए

प्रतिष्टित डिज़ाइनर स्टेफनी की अध्यक्षता में डिजाईनरो ने पुरस्कारों का चयन किया  इस श्रेणी में Best Modern Design Superior “सुपर मून” स्टर्लिंग “इस साल कालीन डिजाइन पुरस्कार पैनल कई बातो पर अंक निर्धारित किये थे उनकी पांच सदस्यों की जज की टीम ने , अपने व्यापक व्यावसायिक अनुभव के आधार पर चुनाव किया है उन्होंने इस डिजाईन के चुनाव के के

लिए अपना विचार रखते हुए कहा की  Best Modern Design Superior में चुनाव के पीछे “सुपर मून” में इसकी डिजाइन, सरल रंग और उसके लिए अच्छी  तकनीक की सोच का इस्तेमाल किया गया है ।जिस तरह से यह दोनों एक आधुनिक और पारंपरिक सेटिंग में इस्तेमाल किया जा सकता है और समय की कसौटी पर खड़े होंगे।

स्टर्लिंग रुग्स के पार्टनर और नुमान वजीरी के पिता अरशद वजीरी ने कहा की पहली बार इस तरह का अवार्ड मिलना उन्हें बहुत ही रोमंचित  करता है , इसमें इंडस्ट्री में नए लोगो का नए प्रयोग करने के उत्साहित करेगा उन्होंने बताया की नुमाना वजीरी ने इस अवार्ड के लिए पहली नॉमिनेशन किया था उनकी मेहनत  रंग लाई उन्होंने इस कारपेट के बारे में बताते हुए कहा यह कारपेट में एक नया पैटर्न है जो प्रकृति के काफी नजदीक है इसे देखने से एक अलग तरीके का भाव उत्पन्न होता है उन्होंने बताया की इस कालीन में सिर्फ काले और सफेद रन के कलर और उसके शेड का प्रयोग किया गया है जो उद्योग में काफीकम देखने को मिलता है |

वही जयपुर रुग्स के   Best Modern Collection“Unstring by Kavi” के लिए निर्णायक मंडल ने पुरस्कार के चयन पर अपने विचार रखते हुए कहा की यह अच्छी कल्पना के साथ रंगों का चुनाव किया गया था यह किसी भी इन्टीरियर के उपयुक्त है | भारत को दो पुरस्कार पर मिलने पर निर्यातको ने ख़ुशी जाहिर की है निर्यातक रवि पटोदिया , संजय गुप्ता, पियूष बरनवाल,फिरोज वजीरी , इस्तियाख खा, संजय श्रीवास्तव , फिरोज सिद्दकी ,संतोष चंद गोलचा ,सुप्रीत अजमेर ,सुभाष मौर्या निर्यातको ने बधाई दी है |

Leave a Reply

Your email address will not be published.