कालीन एक्सपो मार्ट भदोही में अक्टूबर लगेगा मेला – लघु उद्योग मंत्री

वाराणसी – भारत सरकार के वस्त्र राज्य मंत्री अजय टम्टा ने कहॉ कि इंडिया हैंडलूम को मोदी जी ने ब्रांड बना दिया। शुक्रवार को बड़ालालपुर स्थित पं0दीनदयाल हस्तकला संकुल में उत्तर प्रदेश इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन द्वारा आयोजित डिजाइन कान्क्लेंव एवं शिल्पकार बुनकर सम्मेलन में उन्होंने बताया की  कि उनके मंत्रालय ने इंटरनेट धागा ऐप बनाया। इससे 7300000 किलो यार्न उपलब्ध कराया गया। इस ऐप के माध्यम से 3844 लेन-देन भी किए गए। उन्होंने भदोही क्षेत्र में भी इसी तरह के आयोजन कराए जाने की बात कही। जिससे कालीन एक्सपोर्ट को बढ़ावा मिल सके। इसी क्रम में सत्यदेव पचौरी माननीय मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार ने समिट को और व्यापक बनाने के लिए निर्देश दिए। इसमें बनारस का सिल्क मिर्जापुर की दरी और भदोही के कालीन के विख्यात उद्योग को अंतर्राष्ट्रीय बाजार उपलब्ध कराने के लिए ऐसे एक्सपोर्ट समिट करते रहने की सलाह दी। दीनदयाल जी को याद करते हुए उन्होंने कहा किया संकुल पंडित दीनदयाल उपाध्याय को हम कृतज्ञ राष्ट्र की मौन श्रद्धांजलि है। उन्होंने घोषणा की अक्टूबर में भदोही में कालीन मार्ट मेले का आयोजन किया जाएगा। उत्तर प्रदेश के सभी 28 जिले जिनमें हस्तशिल्पी विशेष रूप से मौजूद हैं शिल्प कला के दृष्टिकोण से 28 जिलों के हस्तशिल्प कलाकारों का उन्नयन कैसे हो पर विचार करने का यूपीआईडी को निर्देश दिया। इसके लिए उन्होंने बैंकों से मुद्रा लोन दिलाने में मुख्यमंत्री जी की मदद लेने की बात भी कही।

उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने कहॉ कि वर्षों तक सत्ताधीशों ने हस्तशिल्पियों एवं बुनकरों की कोई सुध नहीं ली और उन्हें कुंठित करने का काम किया। किन्तु अब इतिहास की धारा बदल चुकी है भारत प्रेमी प्रधानमंत्री के साथ साथ हम समस्त भारतवासी अपनी जड़ों की ओर लौट रहे है। उन्होंने हस्तशिल्पियों की महत्ता बताते हुए कहां की ऋग्वेद के दसवें मंडल में हाथ की कुशलता की चर्चा है अयं में हस्तो भगवानः … अर्थात हाथ ही भगवान है। उन्होंने शिव की नगरी काशी के लोगों को बताते हुए कहा की शिव जिस तरह लोकमंगल के पर्यायवाची है उसी तरह हम आप सभी देश की मंगल कामना करें।
उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित शुक्रवार को बड़ालालपुर स्थित पं0दीनदयाल हस्तकला संकुल में उत्तर प्रदेश इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन द्वारा आयोजित डिजाइन कान्क्लेंव एवं शिल्पकार बुनकर सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे।
कार्यक्रम की शुरुआत गंगा स्तुति से किया गया। माननीय सहस्त्रबुद्धे जी द्वारा यूपीआईडी मोबाइल ऐप लॉन्च किया गया। इस मोबाइल ऐप के द्वारा यूपीआईडी संबंधित सभी योजनाओं की जानकारी एक पटल पर मिल सकेगी। यूपीआईडी द्वारा चलाए जाने वाले विभिन्न कोर्स के बारे में जानकारी एवं शुल्क भुगतान ऐप के माध्यम से किया जा सकेगा। श्री सहस्त्रबुद्धे ने अपने संबोधन में कहाू की हस्तकला के क्षेत्र में पूरे देश का 44 प्रतिशत हिस्सा उत्तर प्रदेश का है, हमें उत्तर प्रदेश की इस प्रतिभा को निखारना है और इसे विश्व से जोड़ना है। इस क्रम में अंतर्राष्ट्रीय डिज़ाइनर्स एवं क्रेता द्वारा प्रस्तुतीकरण दिया गया। कार्यक्रम में अध्यक्ष यूपीआईडी शिप्रा शुक्ला, निदेशक यूपीआईडी पवन कुमार, अर्न्तराष्ट्रीय डिजाइनर्स सुश्री पेट्रीया जान्शन आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.