भदोही- एक्सपो मार्ट में दिसम्बर में लगाएगी cepc मेला

भदोही- एक्सपो मार्ट में इंटरनेशनल कारपेट फेयर लगाने का रास्ता साफ

प्रमुख सचिव लघु उद्योग नवनीत सहगल के दौरे में हुई बैठक के बाद सीईपीसी फेयर लगाने के लिए राजी

प्रमुख सचिव ने दिसम्बर में फेयर लगाने के लिए 50 लाख के बजट की की घोषणा

30 सितम्बर को सीईपीसी को हैंडओवर किया जाएगा मार्ट

बे समय से फेयर लगाने को लेकर अटका पड़ा था मामला

भदोही में लघु उद्योग के प्रमुख सचिव नवनीत सहगल के दौरे से 175 करोड़ की लागत से बने एक्सपो मार्ट में कारपेट फेयर लगाने का रास्ता साफ हो गया है। प्रमुख सचिव के साथ हुए बैठक के बाद कारपेट एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल 31 सितम्बर को मार्ट लेने के लिए राजी हो गयी। इसे लेकर दिसम्बर में कारपेट फेयर लगाने पर प्रमुख सचिव ने काउंसिल को 50 लाख की बजट देने की घोषणा की है। काफी समय से लटका पड़ा मार्ट के संचालन का मामला सुलझ जाने के बाद कालीन निर्यातकों की उम्मीदें बेहतर निर्यात को लेकर बढ़ी हुई हैं।

कालीन निर्यात को बढ़ावा देने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश सरकार ने भदोही के कार्पेट सिटी में लगभग 175 करोड़ की लागत से फेयर लगाने के लिए एक्सपो मार्ट का निर्माण कराया। मार्ट के संचालन की जिम्मेदारी कार्पेट एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल को मिली थी लेकिन मार्ट के निर्माण का दस फीसदी काम अधूरा होने के कारण काउंसिल मार्ट लेने से इनकार कर रही थी। इसके कारण अक्टूबर में लगने वाले इंडिया कारपेट एक्सपो को हर बार की तरह इस बार भी बनारस में लगाना पड़ा। जबकि उस फेयर को इस बार भदोही में लगाने की तैयारी थी लेकिन ऐसा नही हो सका। इसे लेकर लघु उद्योग एंव निर्यात प्रोत्साहन के प्रमुख सचिव नवनीत सहगल को खुद भदोही दौरे पर आना पड़ा और काउंसिल के पदाधिकारियों के साथ बैठक के बाद पूरा मामला सुलझ गया। काउंसिल की कुछ मांगे थी जिसे मानने के बाद दिसम्बर में फेयर लगाने की योजना तय हो गयी है। इसके लिए 30 सितम्बर को मार्ट काउंसिल को हैंडओवर कर दिया जाएगा। अक्टूबर में बनारस में फेयर आयोजित होने के बाद दिसम्बर में भदोही में लगने वाले फेयर को लेकर निर्यताको की उम्मीदें बढ़ी हुई है। माना जा रहा है कि इस फेयर के बाद आगे से बनारस में लगने वाला फेयर भी यही होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.