विदेश व्यापार नीति में परिवर्तन से निर्यातकों के लिए सुबिधाये बढ़ी

भदोही – कार्यालय संयुक्त महानिदेशक विदेश व्यापार, वाराणसी, फेडरेशन आफ इण्डियन इक्सपोर्ट आर्गनाईजेशन्स, कानपुर, अखिल भारतीय कालीन निर्माता संघ, भदोही, और कालीन निर्यात संवर्धन परिषद, नई दिल्ली, के सहयोग से  निर्यात बन्धु’ योजनान्तर्गत ’’पोस्ट सेशन आफ मिड-टर्म रिव्यू आफ फारेन ट्रेड पालिसी’’ विषय पर एक संगोष्ठी का आयोजन आज  रविवार, दिनाक 17 दिसम्बर, 2017 को एक्मा के सभागार ‘‘कालीन भवन’’ मर्यादपट्टी, भदोही में किया गया किया गया ।
इस संगोष्ठी के मुख्य अतिथि माननीय सांसद, भदोही श्री वीरेन्द्र सिंह जी थे । श्री सिद्धनाथ सिंह, प्रथम उपाध्यक्ष, कालीन निर्यात संवर्धन परिषद तथा श्रीमती वसुन्धरा सिनहा और अपर महानिदेशक  विदेश व्यापार, उत्तरी भारत, नई दिल्ली विशेष अतिथि थे ।
इस संगोष्ठी में फेडरेशन आफ इण्डियन इक्सपोर्ट आर्गनाईजेशन्स, कानपुर द्वारा विदेश व्यापार नीति के अन्तर्गत मान्यता प्राप्त  ‘‘स्टेट्स सर्टिफिकेट’’ धारकों को निर्यात में उनके योगदान हेतु प्रशंसा पत्र, मुख्य अतिथि माननीय सांसद श्री वीरेन्द्र जी द्वारा वितरित किया गया । इस संगोष्ठी का आयोजन कालीन उद्योग जो चुनौतियों का सामना कर रही है, के लिए मुख्य  रूप  से किया गया ।  सरकार ने 05.12.2017 को विदेश व्यापार नीति के मध्य-अवधि की समीक्षा की घोषणा की है और सभी निर्यातकों को मुख्य प्रावधानों से अवगत कराया गया ।
विदेश व्यापार नीति के तहत जी0एस0टी0 के तहत कैपिटल व्लोकेज के मुद्दे की तरफ विविवत रूप से सरकार द्वारा ध्यान रखा गया है । भारत सरकार द्वारा ‘‘मर्केडाइज एक्पोर्ट फ्राम इण्डिया योजना’’के तहत 25000/- करोड़ रूपये से बढ़ाकर 33435/- करोड़ रूपये कर दिया है और 940 करोड़ रूपये कालीन उद्योग के लिए आवंटित किया गया है । यह उल्लेखनी है कि आई0आई0आई0स0 योजना के तहत दरें 5 प्रतिशत से बढ़ाकर  7 प्रतिशत कर दी गई है ।
निर्यातकों के सभी मुद्दों का समाधान करने के लिए एकल विन्दु प्रदान करने के लिए संपर्क / डीजीएफटी की सुविधा शुरू की गई है । संगोष्ठी में माननीय सांसद भदोही श्री वीरेन्द्र सिंह जी ने आशा व्यक्त की है कि कालीन उद्योग तेजी से बढ़ेगा ।  श्रीमती वसुन्धरा सिनहा और अपर महानिदेशक विदेश व्यापार, उत्तरी भारत, नई दिल्ली ने आश्वासन दिया कि विदेश व्यापार नीति निश्चित रूप से निर्यातकों के लिए बहुत मददगार होगी । इस सेमीनार के आयोजन के लिए सांसद महोदय ने उप महानिदेशक विदेश व्यापार, वाराणसी श्री अमित कुमार को बधाई दी । डिप्टी डी0जी0एफ0टी0 श्री अमित कुमार जी ने कालीन उद्योग और विदेश नीति के मध्य अवधि की समीक्षा पर एक विस्तृत प्रस्तुती दी है । श्री पीयूष कुमार बरनवाल, मानद सचिव, एक्मा ने समस्त अतिथियों  तथा निर्यातकों का धन्यवाद ज्ञापित किया ।
संगोष्ठी में मुख्य रूप से श्री पीयूष कुमार बरनवाल, मानद सचिव, एक्मा, श्री अश्फाक अहमद अंसारी, मानद कोषाध्यक्ष, एक्मा, श्री रवि पाटोदिया, पुर्व अध्यक्ष, एक्मा, श्री ओंकार नाथ मिश्र, पूर्व अध्यक्ष, एक्मा, श्री विनय कपूर, पूर्व अध्यक्ष, एक्मा, श्री अब्दुल हादी,  श्री जयप्रकाश गुप्ता, एच0एन0मौर्य, श्री आर0के0बोथरा, श्री अब्दुल सत्तार अंसारी, श्री इस्तियाक अहमद खाॅ, श्री आलोक बरनवाल, श्री मो0साहिद अंसारी, श्री कमसूद अंसारी, श्री भरतलाल मौर्य, तनवीर हुसेन, सूर्यमनी तिवारी, सुजीत कुमार जयसवाल, अब्दुल रब अंसारी, श्री उमेश कुमार गुप्ता, राजेन्द्र प्रसाद मिश्र,  डाॅ0शीतला प्रसाद गुप्ता, कमलेश चन्द्र श्रीवास्तव, श्री राजेश जी, श्री के0एस0तिवारी, डाॅ रजनीकान्त, निदेशक, ह्यूमन वेलफेयर एसोसिएशन, वाराणसी. तथा अन्य विभागीय अधिकारी आदि उपस्थित थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.