कानपुर September 28, 2015
सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम औद्योगिक इकाइयों को निर्यात के मोर्चे पर आगे लाने के लिए इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन (आईआईए) ने बड़ी पहल की है। इसके तहत लखनऊ में निर्यात सुविधा केंद्र खोलने का निर्णय किया गया है। जानकारों के मुताबिक इससे छोटे उद्योग भी निर्यात करने को प्रेरित होंगे और उनके उत्पादों को वैश्विक पहचान मिलेगी। आईआईए के वरिष्ठ उपाध्यक्ष ने बताया कि निर्यात सुविधा केंद्र में उद्यमियों को निर्यात करने की पूरी प्रक्रिया की जानकारी दी जाएगी। उन्हें बताया जाएगा कि उनके उत्पादों का बाजार कहां-कहां है और निर्यात करने से पहले कहां-कहां करार कराने पड़ते हैं और किन दस्तावेजों की आवश्यकता होती है, सभी की जानकारी इस केंद्र में दी जाएगी। इसके अलावा बैठक में कार्यकारिणी को भारतीय गुणवत्ता परिषद के साथ हुए समझौते के बारे में भी जानकारी दी गई। 


एमओयू के तहत आईआई जीरो डिफेक्ट, जीरो इफेक्ट जेडईडी प्रकोष्टï की स्थापना लखनऊ में करेगी। यह प्रकोष्ठï उद्योगों के लिए जीरो डिफेक्ट, जीरो इफेक्ट प्रमाण पत्र जारी करेंगे। इस प्रमाण पत्र के होने पर एमएसएमई की ओर से बने उत्पाद को दोष रहित माना जाएगा। इसके अलावा उत्पाद पर्यावरणीय चिंता से भी मुक्त माना जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.