भदोही में हुआ ऑन लाइन वोटिंग कि कार्यशाला -कालीन निर्यात संवर्धन परिषद का चुनाव कि वोटिंग होगी ऑन लाइन

 वोटिंग मशीन इस्तेमाल करने तरीके के लिए इस लिंक को क्लिक करे 
अन्य सभी परिषदें पहले ही आनलाइन व्यवस्था को अपना चुकी हैं। कहा कि यह चुनाव प्रक्रिया न केवल आसान है, बल्कि इसमें सहूलियत भी है। इसलिए प्रत्येक निर्यातक मतदाता को इसमें आगे बढ़कर सहयोग करना चाहिए
वे बृहस्पतिवार को एकमा और हैंडीक्राफ्ट एंड कारपेट सेक्टर स्किल काउंसिल के सहयोग से कालीन भवन में आनलाइन मतदान पर सेमिनार को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस व्यवस्था के लिए आपके ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर परिषद में अपडेट होना आवश्यक है। परिषद शीघ्र ही इस संबंध में पत्रावली जारी करेगी। अधिशासी निदेशक शिवकुमार गुप्ता ने कहा हमारे रिकार्ड में अब भी 10 प्रतिशत सदस्य ऐसे हैं, जिनके ईमेल और मोबाइल नंबर गलत हैं। स्पष्ट किया कि इसके बगैर आपका आनलाइन मतदान संभव नहीं होगा। नई दिल्ली के एक साफ्टवेयर कंपनी के प्रतिनिधि दीपक ने आनलाइन मतदान प्रक्रिया पर प्रजेंटेशन देते हुए बताया कि यह न केवल बेहद सरल है बल्कि आप घर पर हों, दूसरे शहर में हों अथवा विदेश में वहीं से मतदान में भाग ले सकते हैँ। उन्होंने स्पष्ट किया जो सुरक्षा उपाय ऑनलाइन खरीदारी, भुगतान, इंटरनेट बैंकिंग, आईआरसीटीसी पर टिकट बनाने में उपयोग किए जाते हैं, वही सुरक्षा आपको प्रदान की जाएगी।�

भदोही : कालीन निर्यात सवंर्धन परिषद (सीईपीसी) का अगला चुनाव इंटरनेट आधारित इलेक्ट्रानिक वो¨टग सिस्टम से होगा। गुरुवार को मर्यादपट्टी स्थित कालीन भवन में सेमिनार का आयोजन कर निर्यातक सदस्यों को आनलाइन वो¨टग के बारे में प्रोजेक्टर के माध्यम से अवगत कराया गया।
दिल्ली से आए एजेंसी विशेषज्ञ दीपक ने लोगों को वो¨टग प्रक्रिया के बारे में बताते हुए कहा कि सरकार के निर्देशानुसार परिषद द्वारा आनलाइन चुनाव हेतु तैयारी पूरी कर ली गई है। इसके लिए निर्यातक सदस्यों को परिषद की वेबसाइट पर अपना ईमेल आइडी, मोबाइल नंबर अपडेट करना होगा। कहा कि इसके माध्यम से वो¨टग प्रक्रिया को अमली जामा पहनाया जाएगा।
प्रोजेक्टर के माध्यम से मतदान के बारे में लोगों को विधिवत समझाया गया। इस दौरान निर्यातकों ने जिज्ञासा शांत करने के लिए कई सवाल खड़े किए जिसका जवाब देकर उन्हें प्रक्रिया के बारे में पूरी तरह संतुष्ट किया गया। परिषद के अधिशासी निदेशक शिवकुमार गुप्ता ने कहा कि आनलाइन वो¨टग से चुनाव न सिर्फ निष्पक्ष होगा बल्कि इससे लोगों को घर बैठे मतदान करने का अवसर मिलेगा।
बताया कि विगत वर्ष सितंबर में हुआ पिछला चुनाव भी इलेक्ट्रानिक वो¨टग प्रक्रिया के तहत कराने के लिए सरकार कटिबद्ध थी, लेकिन ¨कही कारणों से संभव नहीं हो सका। हालांकि सरकार के सख्त अल्टीमेटम के बाद इस बार हर हाल में आनलाइन चुनाव के लिए परिषद तैयार है। बताया कि चुनाव आगामी दिसंबर माह के अंत तक हो सकता है। हालांकि कोवा मेंबरों की अगली बैठक के बाद ही इस पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।
इस मौके पर एकमाध्यक्ष विनय कपूर, पूर्वएकमाध्यक्ष ओंमकारनाथ मिश्रा, नसरुल्लाह अंसारी, राजाराम गुप्ता, परिषद के उपाध्यक्ष हाजी अब्दुलरब अंसारी, वरिष्ठ प्रशासनिक सदस्य उमेश कुमार गुप्ता, इश्तियाक खां, भरत लाल मौर्य, मो. रजा खां, ओएन मिश्रा, हाजी अब्दुल सत्तार अंसारी, अरशद वजीरी, हाजी शाहिद हुसैन अंसारी, एचएन मौर्य, जेपी गुप्ता, अशफाक अंसारी, अब्दुल हादी सहित दर्जनों कालीन निर्यातक रहे एकमाध्यक्ष विनय कपूर ने जहां पूर्व सीईपीसी अध्यक्ष सिद्धनाथ सिंह की तारीफ की, वहीं परिषद के वर्तमान कामकाज पर कुछ सवाल भी उठाए। उन्होंने हर संभव सहयोग का वादा तो किया, लेकिन यह भी कहा कि हालिया गतिविधियों में सीईपीसी का पहले जैसा सहयोग नहीं मिला। परिषद के संस्थापक सदस्य मुस्तफा खां, परिषद के पूर्व अध्यक्ष सिद्धनाथ सिंह और श्रीधर मिश्र, हाजी नसरुल्लाह अंसारी आदि ने विचार व्यक्त किए। इस मौो पर राजाराम गुप्ता, मिथिलेश सिंह, उमेश गुप्ता मुन्ना, घनश्याम शुक्ला, वासिफ अंसारी, अरशद वजीरी, संजय गुप्ता, शास्वत पांडेय, हाजी जलील अंसारी, अनिल कुमार सिंह, इस्तीयाक खां अच्छू, कमरुद्दीन अंसारी, एचएन मौर्य, हाजी अब्दुल हादी, जेपी गुप्ता, अशफाक अंसारी आदि मौजूद रहे।

वोटिंग मशीन इस्तेमाल करने तरीके के लिए इस लिंक को क्लिक करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.