डीआरआई ने किया कालीन व्यवसायी को गिरफ्तार

 भदोही: राजस्व घोटाले के आरोप में शुक्रवार को नगर के एक कालीन व्यवसायी को दिल्ली से आई राजस्व अभिसूचना निदेशालय (डीआरआई) की टीम ने गिरफ्तार कर लिया। गुप्त रूप में हुई इस कार्रवाई के बाद टीम आरोपी को लेकर रवाना हो गई। मामला क्या है तथा कितना बड़ा है इससे स्थानीय पुलिस और आला अधिकारी भी अनभिज्ञता जता रहे हैं। लगभग एक सप्ताह से नगर स्थित एक होटल में गुप्त रूप से ठहरे डीआरआई टीम के सदस्यों ने शुक्रवार को स्थानीय पुलिस के सहयोग से बाजार सलावत खां मोहल्ला निवासी इरफान अहमद नामक कालीन व्यवसायी को घर से गिरफ्तार किया। गुप्त रूप से हुई इस कार्रवाई के तत्काल बाद टीम उसे लेकर लौट गई। घोटाला कितना बड़ा है तथा मामला क्या है इससे स्थानीय पुलिस भी अनभिज्ञ है। शहर कोतवाल कपिलदेव यादव का कहना है कि डीआरआई के इंटेलिजेंस अफसर ज्ञानेंद्र सिंह के नेतृत्व में टीम आई थी। उनका कहना था कि ड्यूटी ड्रा बैक के मामले में करोड़ों का घोटाला हुआ है। इस मामले में संबंधित विभाग के अधिकारियों से बात करने का प्रयास किया गया लेकिन उन्होंने कोई जानकारी देने से इंकार कर दिया। बताया जा रहा है कि कालीन एक्सपोर्ट में मिलने वाले ड्यूटी ड्रा बैक को हासिल करने के लिए कुछ लोगों द्वारा धांधली की जाती है। इसी से संबंधित उक्त मामला हो सकता है। हालांकि जब तक अधिकारिक पुष्टि नहीं होती कुछ कहा नहीं जा सकता।

वैसे एक स्थानीय अख़बार में खबर छपने के बाद इस तरह के काम करने वालो के बीच दहसत दिखी पड़ा है हलाकि मामले में कितने लोग शामिल है यह बाद में ही पता चल सकेगा 


Leave a Reply

Your email address will not be published.